Offer

Raksha Bandhan

रक्षाबंधन : भाई बहन के प्रेम का प्रतीक


रक्षाबंधन : भाई बहिन के प्रेम का प्रतीक
रक्षा- बंधन 

भारत विविधताओं से भरा हुआ देश है ,बात चाहे धर्म की हो ,संस्कृति की हो ,कलाओं की हो ,चाहे पर्वों  की हो ,भिन्नताएं होने के बावजूद भी सब में एकजुटता है | सब प्रत्येक पर्व  को ख़ुशी- ख़ुशी मिलजुल कर  मानते हैं | सभी धर्मों में मनाये जाने वाले पर्वों  का अपना अलग  महत्व है  | राखी का पर्व भी इनमें अपना अलग स्थान रखता है | भाई  बहन  के प्यार का प्रतीक यह पर्व श्रावण  मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है |  यह पर्व न केवल हिन्दू बल्कि सिख और मुस्लिम भी हर्षोल्लास के साथ मानते हैं | यह पर्व हर भाई बहन के लिए महत्वपूर्ण जगह रखता है | इस दिन बहन राखी के धागे में अपना सम्पूर्ण प्रेम पिरो कर भाई की कलाई पर बांध कर अपने प्रेम को प्रकट करती है और भाई भी अपनी बहन की हर मनोकामना पूरी करने के लिए वचनबद्ध होता दिखाई पड़ता है | साथ ही अपनी बहन के लिए अलग अलग उपहार और पैसे दे कर उसको प्रसन्न करता है | धागे की यह डोरी न केवल भाई की लम्बी उम्र की दुआ के लिए बाँधी जाती है ,साथ ही अपनी रक्षा हेतु भाई को सजग रहने के लिए भी प्रेरित करती है | बहन केवल उपहार या पैसे के लिए ही राखी नहीं बांधती बल्कि भाई की हर ख़ुशी के लिए उसके हर सुख दुःख में साथ निभाने के लिए सदैव समर्पित रहने की आशा करती है |  भगवान करे भाई बहन के प्रेम का यह पर्व सदैव बना रहे |           

आधुनिक युग में रिश्तों को बिखरते हुए देखा जा रहा है , वजह है- अपने आप को आधुनिकता के लिवाज में लपेट कर इन पवित्र पर्वों को व्यर्थ घोषित करना जो के सही नहीं है | आज चाहे हमारे पास समय की कमी हो गई है , किन्तु रिश्तों को जिन्दा रखने के लिए समय को सही रूप में प्रयोग में लाना होगा | अगर हम ऐसा नहीं करेंगे तो रिश्ते ख़तम हो जायेंगे और रिश्ते ख़तम होने से जीवन नीरस और आस्वाद्य बन जायेगा | इससे बचने के लिए रिश्तों की अहमियत को समझना होगा और हर पर्व की महत्ता को बनाये रखना होगा |



रक्षाबंधन : भाई बहिन के प्रेम का प्रतीक | 
















Previous
Next Post »

Thanks for your comment. ConversionConversion EmoticonEmoticon