Offer

Spring Season

बसंत ऋतु : Spring Season 


 Spring Season
 Spring Season


बसंत शब्द की उत्पत्ति : Origin of Spring Words

बसंत शब्द संस्कृत की "बस" धातु से उत्पन्न हुआ है | "बस" का अर्थ है _ चमकना अतः बसंत का अर्थ हुआ चमकता हुआ | प्रकृति के चमकते हुए स्वरूप को बसंत शब्द से अलंकृत किया गया है | भारतीय परम्परा के अनुसार चैत्र माह वर्ष का प्रथम माह है और बसंत का आगमन भी इसी माह से होता है | चैत्र और वैशाख के माह बसंत ऋतु  के कहलाते हैं | पुरातन युग में किसी  भी शुभ कार्य का  इन्हीं दो महीनों  में किया जाता था | वैदिक काल में शिक्षा प्राप्ति एवं महायज्ञ इन्ही महीनों में ही करवाए जाते थे क्योंकि बसत को शुभ व् शगुन के रूप में स्वीकार किया जाता रहा है |

ऋतुराज : Rituraj

बसंत ऋतु  को ऋतुओं का राजा कहा जाता है | प्रकृति के सभी गुणों  का समावेश इस ऋतु में अनुभव किया जा सकता है | सभी ऋतुओं का मिश्रण होने के कारण  ही इसे ऋतुराज कहा गया है | यह ऋतु खुशियों का प्रतीक है और भारत में सारी  ऋतुओं में सर्वोपरि है |

स्वास्थय के लिए वरदान Boons for Health  

 जब प्रकृति के सारे रूप प्रसन्नता  प्रकट कर रहे होते हैं , तब प्रकृति का पुजारी मानव इन नजारों से पीछे कैसे रह सकता है | इस ऋतु  में फूलों की खुशबू , उनका यौवन देख प्रायः सभी  का मन प्रफुल्लित  हो उठता है | बच्चे , बूढ़े , नौजवान सभी प्रकृति के इस सौंदर्य का लुत्फ़  उठाते हैं | शीतल खुशबूदार हवा का आनंद लेने के लिए लोग सुबह की सैर के लिया निकल पड़ते हैं | तंदरुस्ती की दृष्टि से भी यह ऋतु  लाभदायक है | शुद्ध हवा शरीर के लिए अच्छी  दवा का कार्य करती है इसलिए यह ऋतु  स्वास्थ्य के लिए वरदान है |

त्योहारों का मौसम :  Festivals season

इस ऋतु में ख़ुशी और आनद का लुत्फ़ उठाते हुए लोग भिन्न -भिन्न त्योहारों को हर्षपूर्वक मानते है | त्योहारों का शुभारंम्भ बसंत पंचमी से होता है जो चैत्र माह की पंचमी को मनाई जाती है | इस दिन लोग पीले वस्त्र धारण करते हैं , घरों में तरह तरह के स्वादिष्ट पकवान बनाये जातें हैं | इस ऋतु में अक्सर पीले चावल बनाये जाते हैं | कई जगह तो बसंत पंचमी के मेलों का आयोजन भी किया जाता है | अपने दिल की ख़ुशी को शब्दों में प्रकट करने के लिए इसे रंग भी कहा जाता है | रंगों का त्यौहार होली भी इसी ऋतु में ही मनाया जाता
है | ख़ुशी को प्रकट करने के लिए अपने दिल के रंगों को बाहरी रंगों से भर कर रंगीन बनाते हैं | सभी ख़ुशी से झूमते , नाचते , गाते और आनदविभोर हो उठतें हैं | (वैसाखी का त्यौहार) भी इन्हीं महीनों में मनाया जाता है |
इस ऋतु के आगमन से पूर्व ही बच्चों में ख़ुशी की लहर दौड़ जाती है | आसमान नीली , पीली ,हरी , सफ़ेद पतंगों से भर जाता है | जहाँ भारत इस त्यौहार का आनंद उठता है वहीँ पाकिस्तान में भी बसंत वाले दिन पतंगबाजी पूरे जलाल पर होती है | बसंत ऋतु आते ही बच्चे सारा खाली समय पतंगों के साथ व्यतीत करते दिखाई पड़ जाते हैं |

कवियों की प्रेरणा का स्रोत : Source of inspiration for poets

पुरातन समय में इस ऋतु ने सबसे अधिक कवियों को झिंझोड़ा है | बाल्मीकि ,व्यास , कालिदास (Balmiki, Vyas, Kalidas) और संस्कृत के कवियों ने बसंत ऋतु पर अनेकों रचनाएँ प्रस्तुत की हैं | हिंदी के कवियों ने भी इस ऋतु के प्रभाव को अपने काव्य में स्थान दिया है | ठाकुर गोपालशरण सिंह (Thakur Gopalsharan Singh) की बसंत सुषमा की कुछ पंक्तियाँ प्रस्तुत हैं :

बदल गई है प्रकृति ,
समय ने भी अब पलटा खाया है|
फिर से सभी वनस्पतियों में नव-जीवन सा आया है |
फूलों के मिस लतिकायें सब ,
मंद -मंद मुस्काती है ,पल्लव रुपी पाणी हिलाकर ,
मन के भाव बताती है |

बलिदान का यादगारी त्यौहार : Memorial festival of sacrifice

बसंत का त्यौहार हमें एक ऐतिहासिक घटना की समृति भी दिलाता है | इस दिन वीर बालक हकीकत राय (Veer Hakikat Rai ) ने सिर देकर न भूलने योग्य बलिदान दिया था | उस वीर बालक की याद में उसकी समाधि पर हर साल शाम को मेला लगता है | पहले यह त्यौहार लाहौर में लगता था परन्तु अब यह नई दिल्ली हिन्दू महा सभा भवन में लगता है | भगत सिंह ( Bhagat Singh ) जैसे महान शूरवीर ने भी बसंती चोले को पहनने की बात की है :
Bhagat Singh
Bhagat Singh

मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे |
मेरा रंग दे बसंती चोला --------------

उसने आज़ादी की शमा पर हँसते - हँसते परवाने की तरह लिपट जाने का महान कार्य के साथ देशभक्ति की सच्ची मिसाल कायम की | इसप्रकार प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में खुशियों और उमंगों का संचार करने वाली यह ऋतु सभी ऋतुओं में श्रेष्ठ मानी गई है |

Some Important Links :

............बसंत ऋतु : Spring Season ..........


























Newest
Previous
Next Post »

1 comments:

Click here for comments
7 February 2019 at 22:07 ×

thanks and https://www.gethindimehelp.in/

Congrats bro sandeep kashyap you got PERTAMAX...! hehehehe...
Reply
avatar

Thanks for your comment. ConversionConversion EmoticonEmoticon